ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
e-Pass के जरिए जिले में आए 3103 व्यक्ति, सभी पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में
June 16, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
e-Pass के जरिए जिले में आए 3103 व्यक्ति, सभी पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 

क्वॉरेंटाइन सेंटर/होम क्वॉरेंटीन की हो रही लगातार जांच

रायगढ़ . केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा उनके प्रदेश के अन्य प्रान्तों में फंसे श्रमिकों को उनके प्रदेश पहुंचाने की व्यवस्था किये जाने से श्रमिकों का उनके राज्यों में आना शुरू हुआ है । राज्य सरकार लॉकडाउन के प्रारंभ से ही इस कार्य में जुटी थी।

उनके अथक प्रयासों से दिगर प्रान्तों में कार्यरत छत्तीसगढ़ के श्रमिक अपने-अपने जिले आये हैं । संक्रमित क्षेत्रों से श्रमिकों के भारी संख्या में प्रदेश में आने से कोविड-19 पॉजिटिव की संख्या में इजाफा हुआ है ।

प्रदेश सरकार द्वारा वाहनों के आवागमन के लिए छ.ग. कोविद-19 ईपास की सुविधा जारी की गई । अब तक e-Pass के जरिए जिले में 3103 व्यक्ति आ चुके हैं । जिन्हें होम कोरेन्टीन कर उनके घर के बाहर स्टिकर चस्पा किया जा रहा है । इनकी निगरानी स्वास्थ्य विभाग एवं पुलिस विभाग द्वारा की जा रही है । इनके द्वारा किसी भी प्रकार की लापरवाही बरते जाने पर इन पर कार्यवाही होगी ।

इसी प्रकार आज दिनांक तक अन्य राज्यों से करीब 14,700 श्रमिक जिले में आ चुके है, जिन्हें उनके निकटतम पंचायत के क्वॉरेंटाइन सेंटर (स्कूल, हॉस्टल, मंगल भवन आदि) में ठहराया गया । क्वॉरेंटाइन सेंटर में 14 दिवस रहकर बहुत से लोग अपने घर जा चुके हैं । वर्तमान में 5769 व्यक्ति ही विभिन्न क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे हैं । उन पर प्रशासनिक अधिकारी, पंचायतकर्मी, शिक्षा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी/कर्मचारी के साथ जिला पुलिस का स्टाफ सतत निगाह रखे हुए है ।

थाना प्रभारी एवं स्टाफ लगातार क्वॉरेंटाइन सेंटर चेक किया जा रहा है । क्वॉरेंटाइन सेंटर से क्वॉरेंटीन के भाग जाने की शिकायत पर लगातार कार्यवाही की गई है । बेहतर होगा कि होम क्वॉरेंटीन एवं क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे लोग कोविड-19 हेतु बनाये गये नियमों का पालन कर प्रशासन एवं पुलिस को सहयोग प्रदान करें ।