ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
अंधे कत्ल का नागदा पुलिस ने किया खुलासा, अंधे कत्ल के खुलासे मे देर हो जाये चलेगी परंतु किसी बेगुनाह को गुनहगार ना बनना पड़े : थाना प्रभारी शर्मा
February 24, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • क्राइम / अपराध

अंधे कत्ल का नागदा पुलिस ने किया खुलासा, अंधे कत्ल के खुलासे मे देर हो जाये चलेगी परंतु किसी बेगुनाह को गुनहगार ना बनना पड़े : थाना प्रभारी शर्मा

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा. पुलिस को फोन पर सूचना प्राप्त हुई की ग्राम रोहल खुर्द के बाहर करमदी रोड के किनारे गड्ढे में एक व्यक्ति की गला रेत कर हत्या कर दी गई है। उक्त सूचना मिलते ही तस्दीक हेतु नगर पुलिस अधीक्षक मनोज रत्नाकर के साथ थाना प्रभारी श्याम चंद्र शर्मा घटना स्थल पर पहुचे।

घटना स्थल का मुआयना करने पर मृतक की पहचान मनोहर पिता उदय सिंह भाटी उम्र 40 साल निवासी ग्राम रोहल खुर्द के रुप मे हुई । घटना स्थल का निरीक्षण करने पर मृतक के दाहिने कोहनी के नीचे खून से लथपथ लोहे का चाकु तथा मृतक के हाथ मे कुछ बाल तथा मृतक के पैरों के पास उसकी उत्तरी हुई चप्पल पाई गई थी, मृतक के सिर के पास से एक सील बंद देशी शराब का क्वार्टर मिला था तथा गड्ढे में एक खुला हुआ क्वाटर भी मिला था पास मे बीड़ी के टुकडे मिले थे जिसे मौके पर से जप्त किया गया था । मौके पर ही फरियादी राजेंद्र सिंह पिता भवर सिंह भाटी उम्र 45 साल निवासी रोहल खुर्द की रिपोर्ट पर से देहाती नालसी कायम कर थाना नागदा मे अपराध क्रमांक 74/2020 धारा 302 आईपीसी का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।

अंधे कत्ल का नागदा पुलिस ने किया खुलासा

पुलिस अधीक्षक उज्जैन सचिन अतुलकर ने अधे कत्ल की गंभीरता को देखते हुए । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया व नगर पुलिस अधीक्षक नागदा मनोज रत्नाकर को अंधे कत्ल के संबंध में आवश्यक निर्देश देकर हर पहलू पर जांच कर अलग - अलग टीम बनाने के सबध में निर्देशित किया गया । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देहात आकाश भूरिया व नगर पुलिस अधीक्षक नागदा मनोज रत्नाकर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी श्याम चंद्र शर्मा नागदा ने प्रथक प्रथक टीम जिसमें उप निरीक्षक जीवन सिंह भिडोरे , सउनि आर एस पंवार , आरक्षक नीरज पटेल , आरक्षक सुनील बेस के नेतृत्व में शराब बेचने वाले की जानकारी तथा उप निरीक्षक राजेश कलमी , आर . दिनेश गुर्जर , आरक्षक यशपाल सिंह को मृतक के परिजनों व उसके घर के आसपास के लोगों से जानकारी , उप निरीक्षक प्रीति कनेश, आरक्षक विनोद माली , आरक्षक सुखदेव , आर ईश्वर को मृतक के घर के आसपास से मृतक के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी एकत्रित करने हेतु निर्देशित किया गया ।

अंधे कत्ल का नागदा पुलिस ने किया खुलासा

विवेचना के दौरान सभी पहलुओं पर बारीकी से जांच करते हुवे तकरीबन 20 से 25 लोगों से पुछताछ की गई , पूछताछ करते समय फरियादी द्वारा मृतक को घटना की रात्रि 9 बजे के करीबन मृतक मनोहर सिंह की दुकान बागरी मोहल्ले के पास खड़ा हुआ देखा गया । जब आसपास के लोगों से पूछताछ की गई तो नंदू बागरी से जानकारी मिली की शाम को 7:30 बजे के लगभग विनोद बागरी निवासी नयाखेड़ा रोहलखुर्द से बागरी मोहल्ले मे उसकी बहन के बिमारी के बारे मे बात कर रहा था तथा देसी शराब का क्वार्टर दिया।

रात्रि के लगभग 9.30 बजे मृतक मनोहर भाटी व प्रकाश माली भेरू माली के साथ मे नन्दू बागरि के घर के सामने दिखे थे। प्रकाश व भेरु से पूछताछ पर जानकारी लगी की रात मे सुरेश बागरि उर्फ सुरेश लंगड़ा को छोड़ने के लिये नयापुरा गये थे जिसके बाद बागरि मोहल्ले मे रात के तकरीबन 10 बजे विक्रम बागरि के यहा से 40 रुपय में एक क्वाटर दारु लेकर , प्रकाश माली , भेरु माली , मृतक मनोहर भाटी तथा उसके साथ आए हुए विनोद बागरी पिता शंकरलाल बागरी निवासी नयाखेडा रोहल खुर्द ने साथ मे शराब पी । मृतक मनोहर भाटी व विनोद बागरी को नया खेडा तरफ जाते हुवे एव प्रकाश माली व भेरु माली अपनी मोटरसाइकिल से अपने घर चले गए।

अंधे कत्ल का नागदा पुलिस ने किया खुलासा

घटना वाली रात्रि 10 : 00 बजे मृतक मनोहर भाटी व विनोद बागरी को अंतिम बार एक साथ नयापुरा रोहल खुर्द तरफ जाता हुवा देखा गया जिसके आधार पर विनोद पिता शंकरलाल बागरी निवासी नयाखेडा रोहल खुर्द से पूछताछ की गई तो शुरुआती दौर पर विनोद बागरी द्वारा मृतक मनोहर भाटी से कोई पहचान नहीं होना बताई गई तथा घटना दिनांक को बागरी मोहल्ले में भी शाम को नहीं जाना बताया गया । किन्तु साक्षी प्रकाश माली व भेरु माली के अनुसार घटना दिनांक को रात्रि 10 : 00 बजे मृतक मनोहर भाटी व विनोद बागरी साथ में थे ।

 

Deceased - Manohar's father Uday Singh Bhati

पुनः वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में विनोद बागरी और मृतक मनोहर भाटी के संबंध में गांव रोहल खुर्द जाकर बागरी मोहल्ले में आसपास के लोगों से पूछताछ पर जानकारी लगी की मृतक मनोहर भाटी व विनोद बागरी एक दूसरे को पहचानते थे साथ में बैठकर दारू पीते थे , पुन: विनोद बागरी से बारीकी व हिकमतअमली से पूछताछ करने पर घटना दिनांक को शाम 7 : 30 करीबन बागरी मोहल्ले में जाना तथा नंदू बागरी द्वारा उसकी बहन की बीमारी के बारे में चर्चा करना एवं ₹40 में एक क्वार्टर लेना स्वीकार किया , तथा प्रकाश माली भैरू माली व मृतक के साय में दारु पीकर नयाखेडा तरफ जाना ।

अंधे कत्ल का नागदा पुलिस ने किया खुलासा

बाद पुन : नंदु बागरी के घर से मृतक मनोहर भाटी ने 3 क्वार्टर लिए फिर नयाखेडा तरफ जाते स्कूल के पास चलते में एक क्वार्टर पीया और मनोहर बाद नयाखेडा मोड़ पर के किनारे गड्डे में मृतक मनोहर व विनोद बागरी ने दारू व बीडी पीकर और दारू पीने की बात पर मृतक ने चाकू निकाल लिया और लड़ाई झगडा झुमा झटकी में मृतक की शर्ट गिर गई , विनोद बागरी की शर्ट फट गई तब विनोद ने चाकू छिना कर मनोहर भाटी के गर्दन पर चाकू से वार कर दिया चाकू लगते ही मनोहर भाटी गिर गया । अधिक खून बहने से मृत्यु हो गई बाद आरोपी विनोद बागरी ने मृतक की नीचे पड़ी शर्ट को उठाकर नाले होकर गया स्कूल के दूसरी तरफ शर्ट रखकर अपने खेत तरफ भाग गया और स्वंय की शर्ट जिसमे खुन लगा था धोकर घर में आकर छपा दी।

गिरफ्तार आरोपी -

विनोद पिता शंकर बागरी उम्र 40 साल निवासी नया खेडा रोहलखुर्द.  आरोपी विनोद बागरी का अपराधिक रिकॉर्ड - अप . क्र . 65 /07 धारा 379 ipc , अप . क्र . 198 / 09 धारा 323 , 294 , 506 , 504 , 34 ipc

मृतक मनोहर भाटी का अपराधिक रिकॉर्ड -

अप . क्र . 882 / 14 धारा 379 ipc

आरोपी विनोद से जप्त माल -

आरोपी की फटी शर्ट जिसमे मृतक का खून लगा ,

सराहनी कार्य -

नगर पुलिस अधीक्षक नागदा मनोज रत्नाकर , निरीक्षक श्याम चन्द्र शर्मा , उप निरीक्षक जीवन सिंह भिडोरे , उप निरीक्षक राजेश कलमी , उप निरीक्षक प्रीति कनेश , सउनि आर एस पंवार , आरक्षक नीरज पटेल , आरक्षक सुनील बेस आर . दिनेश गुर्जर , आर ईश्वर आरक्षक यशपाल सिंह आरक्षक विनोद माली , आरक्षक सुखदेव , का ग्राम रोहल खुर्द के अंधे कत्ल के खुलासे में सराहनी भूमिका रही ।