ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
अपराधियों को दिलाई जाये फांसी की सजा, बेटियों के विरूद्ध अपराध के मामले फास्टट्रैक में चलाये
July 23, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़

अपराधियों को दिलाई जाये फांसी की सजा, बेटियों के विरूद्ध अपराध के मामले फास्टट्रैक में चलाये

TOC NEWS @ www.tocnews.org

भोपाल // विनय जी. डेविड 9893221036 

मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा पुलिस महानिदेशक को निर्देश   

भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने छिंदवाड़ा में 3 वर्षीय बालिका के साथ बलात्कार और मौत की घटना में शामिल आरोपियों का मामला फास्टट्रैक में ले जाकर इस जघन्य अपराध के लिए फाँसी की सजा कराने के निर्देश पुलिस प्रशासन को दिये हैं। मुख्यमंत्री ने आज पुलिस महानिदेशक को निर्देशित किया कि इस घटना की तत्परता से कड़ी जाँच की जाये और प्रकरण फास्टट्रैक अदालत में चलाकर आरोपी को कड़ा से कड़ा दंड सुनिश्चित किया जाये।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में माफियाओं, गुंडो और असामाजिक तत्वों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान में ऐसे किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाये। बेटियों के विरूद्ध अपराध पूरी मानवता के खिलाफ है। ऐसे लोगों को किसी भी कीमत पर छोड़ा नही जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 13 जुलाई और 20 जुलाई को कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए माफियाओं के विरूद्ध अभियान चलाने के निर्देश दिये थे। वीडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से जिलों की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने एसपी और कलेक्टर को माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिये थे। मुख्यमंत्री ने ये भी कहा था कि किसी भी जिले में कार्रवाई होने में लापरवाही होती है तो इसके लिए कलेक्टर और एसपी जिम्मेदार होंगे।

पुलिस प्रशासन द्वारा चलाये जा रहे अभियान में बड़े सफेदपोश गुंडो और अपराधियों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जा रही है। नाबालिग बालिकाओं के साथ आपराधिक कृत्य करने वाले सफेदपोश मीडिया से जुड़े प्यारे मियां के खिलाफ पुलिस ने सख्ती से कार्यवाई की। उनकी तत्काल गिरफ्तारी हुई और अतिक्रमण पर बनाई उनकी सम्पत्तियों को धराशायी किया गया। उनके विरूद्ध अपराध के जितने अन्य मामले थे उनकी भी जाँच सख्ती से की जा रही है।

माफियाओं के विरूद्ध अभियान में 23 जुलाई को नागदा में बदमाश सलमान लाला पुत्र शेरू लाला की अवैध रूप से निर्मित मकान को नगर पालिका द्वारा ध्वस्त कर दिया गया। नागदा में इसका आतंक था, इसके खिलाफ शिकायत करने में भी लोग डरते थे। सलमान के विरूद्ध हत्या का प्रयास, मार-पीट, अड़ीबाजी, अवैध वसूली इत्यादि गंभीर प्रकृति के 10 अपराध पंजीबद्ध है। सलमान का नागदा नगर क्षेत्र में आतंक बताया जाता था। पुलिस की माफिया विरोधी अभियान में उसकी सम्पत्तियां ध्वस्त करने से क्षेत्र की जनता में एक अच्छा संदेश गया है। लोगों में यह भरोसा मजबूत हुआ है कि गुंडे बदमाशों के खिलाफ सख्त कार्रवाई में शासन चुकेगा नहीं।

मंदसौर में कुख्यात तस्कर अब्दुल पिता बाबू बिल्लौर के डोंडाचूरा की तस्करी को पकड़ने में सफलता हासिल हुई है। रहीमगढ़ सुवासरा रोड पर एक ट्रेलर की जाँच में 3.1 टन डोंडाचूरा 155 बोरी में पकड़ा गया जिसे गेहूँ की बोरियों के बीच छुपाकर रखा गया था। अपराध में पटियाला निवासी ड्राइवर को गिरफ्तार किया गया। डोंडाचूरा तस्करी के उक्त अपराध में कुख्यात फरार तस्कर अब्दुल पिता बाबू बिल्लौर का माल होने का आरोपी बनाया गया है। उसकी तलाश की जा रही है। पुलिस द्वारा तस्कर बाबू बिल्लौर के साथ प्यारे मियां के संपर्कों की जाँच की जा रही है।

भोपाल पुलिस द्वारा 22 जुलाई को भोपाल में इनामी बदमाश शेखर लोधी को एनकांउटर में घायल कर गिरफ्तार किया गया। इस पर कई अपराध दर्ज है। पुलिस को इसकी तलाश थी, इस पर 25 हजार रूपये का इनाम भी घोषित था।

प्रदेश में माफिया और गुंडों के खिलाफ अभियान आगे भी जारी रहेगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस को फ्री-हैंड देते हुए निर्देश दिये हैं कि ड्रग्स का धंधा करने वाले, सम्पत्ति हड़पने वाले सहकारी माफिया, चिटफंड कंपनी, राशन की काला-बाजारी, मिलावट-खोरों, आदतन अपराधियों, अतिक्रमणकारियों और अवैध शराब का कारोबार करने वालो के विरूद्ध कार्यवाई सुनिश्चित की जाये। माफियाओं के विरूद्ध इस अभियान की पुलिस महानिदेशक स्तर पर समीक्षा के भी निर्देश दिये हैं।