ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
औद्योगिक इकाइयों मे जा रहे श्रमिकों से बिगड़ रही व्यवस्था - नही है किसी का इस ओर ध्यान
April 24, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
औद्योगिक इकाइयों मे जा रहे श्रमिकों से बिगड़ रही व्यवस्था - नही है किसी का इस ओर ध्यान

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

लोगो के आवागमन को देख आई. पी.एस. रह गये दंग

नागदा जं । औद्योगिक शहर नागदा में कोविड 19 कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजो की संख्या जहाँ बढ़ कर 8 हो गई है वही शहर वाशियो की मुसिबते भी कम होने का नाम नही ले रही है। लॉक डाऊन मे पूर्णत: कर्फ्यू जैसे हालात बने हुवे है। फिर भी लोगो को समझ मे नही आ रहा है की घरों मे ही रहे और बेवजह घरों से ना निकले।

नागदा शहर मे यू तो दो थाना क्षेत्र है जिसमे एक नागदा मण्डी थाना है जिसके थाना प्रभारी श्याम चन्द्र शर्मा है जिन्होनेे लॉक डाऊन को बखुबी सम्भाल रखा है वही जनता एव व्यापारियों का पुर्ण सहयोग भी मिल रहा है। वही बिरला ग्राम थाने के प्रशिक्षु आई पी एस अभिनव चौकसे के लिये यह क्षेत्र सिरदर्दी बना दिख रहा है। बिरला ग्राम थाना क्षेत्र मे तीन बड़ी औद्योगिक इकाईया है ।

प्रसाशन द्वारा लॉक डाऊन मे उद्योगों को चलाने की अनुमति दे रखी है जिसकी वजह से श्रमिकों का लगातार आना जाना लगा रहता है जो की मण्डी क्षेत्र ओर अन्य इलाकों से उद्योगों मे कार्य के लिये आते व जाते है वही जनसेवा हॉस्पिटल भी इसी क्षेत्र मे होने के कारण लोगो का आना जाना बराबर लगा रहता है। जो की चिंता का विषय है क्यो की नागदा मण्डी क्षेत्र मे कोरोना पॉजीटिव मामले सामने आने के बाद इस क्षेत्र मे आवागमन लगातार जारी है जो बिरला ग्राम पुलिस के लिये गम्भीर चुनौती साबित हो रहा है।

इसे भी पढ़ें :- कोराना पॉजिटिव शव के साथ ही कर डाला घिनौना खेल, भोपाल के तहसीलदार का अमानवीय चेहरा सामने आया, यह धरती का भगवान नहीं, खलनायक निकला

पुलिस द्वारा बिरला ग्राम चूरी गेट पर बेरिकेट लगा कर नाकाबंदी की गई है किन्तु बेवजह झूठ बोल कर लोग एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र मे आ जा रहे है। पुछे जाने पर कहा जाता है की जनसेवा जा रहे है या फेक्ट्री जा रहे है। मजबूरन पुलिस को विश्वास करना पड़ता है ओर जाने दिया जाता है। अब तो देखने मे यह भी आया है की पुरुष तो बे वजह घुमते ही थे महिलायें भी झुट बोल कर पुलिस को गुमराह कर धूम रही है। इस बात की जानकारी जब श्री चौकसे को ANI News India ने दी तो वह भी यह सब देख दंग रह गये। और चेक पॉइंट पर खुद को मैदान मे उतरना पड़ा ।