ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
बेदखल किये गये लोग अपने आशियानो से, चम्बल नदी के तट पर रहने को मजबुर परिवारों की भीड़ मे दो महिलायें है गर्भवती
April 23, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा : 8305895567

नागदा जं । औद्योगिक शहर नागदा मे कोविड 19 कोरोना वायरस के चलते कर्फ्यू लगा हुवा है। प्रसाशन पुरी तरह से अलर्ट भी है। कसाई मोहल्ले मे अपने आशियानो मे रहने वाले घूमक्कड़ परिवारो को चम्बल तट पर रहने को मजबूर होना पड़ गया। ये परिवार कसाई मोहल्ले मे किराये से रह रहे थे। जिन्हे शहर से बाहर कर दिया गया।

कारण आशियाने के नजदीक रह रहे रहवाशियो द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते ली गई आपत्ति के कारण मकान मालिक ने किराये से रह रहे इन परीवारो को बेघर कर दिया। जिसकी वजह से इन परिवारों को चम्बल नदी के तट पर रहने को मजबूर होना पड़ा ।

जब कसाई मोहल्ले के रहवासियों से जानकारी जुटाई गई तो चौकाने वाली बात सामने आई की यह परिवार एक एक कमरो मे कई कई लोग भीड़ के रुप मे रह रहे थे। इसके अलावा यह बाहरी शहरो से आए अपने करीबियों से मिलना जुलना कर रहे थे जिसे देख क्षेत्र के रहवासियों ने आपत्ति लेते हुवे विरोध कर मकान मालिक को शिकायत की। जिससे ये लोग चम्बल तट पर रहने चले गये।

चम्बल तट पर रह रहे परिवारो मे 2 महिलायें गर्भवती भी है तथा युवतियों की संख्या भी ज्यादा होने से अनहोनी की भी शंका बनी हुई है ।

इनकी सुध लेते रहे समाज सेवी

शहर मे भोजन वितरित करने वाले पोरवाल समाज को जब इनकी जानकारी लगी तो भोजन की दोनो टाईम की व्यवस्था कर रहे है। वही पत्रकार साथियों ने इन परिवारों को दवाएं भी मुहैया कराई एव मास्क भी वितरित किये ।