ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
बुलबुल 5 मिनट में तैयार कर देती थी 3 नकली नाेट, खुद के नाम की जगह दूसरे का नाम जाेड़कर देती थी फर्जी अंकसूची
March 20, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • क्राइम / अपराध
बुलबुल परमार 5 मिनट में तैयार कर देती थी 3 नकली नाेट, खुद के नाम की जगह दूसरे का नाम जाेड़कर देती थी फर्जी अंकसूची

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

  • पुलिस ने नकली नाेट बनाने के सामान सहित जब्त किए दस्तावेज,
  •  पूछताछ के लिए मिला एक दिन का पुलिस रिमांड
  •  पुलिस द्वारा बुलबुल के घर से जब्त किया गया सामान 

नागदा जं.। नकली नाेट छापकर चलाने वाली 27 वर्षीय प्रकाश नगर निवासी बुलबुल परमार के घर से पुलिस को जांच के दौरान फर्जी अंकसूची भी मिली है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बुलबुल ने खुद की अंकसूची पर दूसरे का नाम जाेड़कर फर्जी अंकसूची तैयार की थी। यानी बुलबुल नकली नाेट के साथ ही फर्जी अंकसूची बनाने का काम भी करती थी। हालांकि अभी पुलिस इस मामले पर कुछ बाेल नहीं रही है, लेकिन इसकी भी पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

बुधवार काे पुलिस ने अाराेपी बुलबुल काे न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे 1 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया। गौरतलब है कि काे पुलिस ने मंगलवार रात 9.30 बजे गिरफ्तार किया था। पुलिस ने बुधवार काे उसके घर की जांच की, जहां से नकली नाेट छापने की सामाग्री के साथ अन्य दस्तावेज भी मिले है। पहले 200 का नाेट मिला था, उसके बाद से ही तलाश थी नकली नाेट गिरोह की सूत्राें के अनुसार करीब 10 दिन पहले एक इलेक्ट्राॅनिक की दुकान पर 200 रुपए का नकली नाेट मिला था। इसे इलेक्ट्राॅनिक संचालक ने पुलिस काे दिया था, उसके बाद से ही पुलिस नकली नाेट संचालित करने वाले की तलाश में थी।

बुलबुल परमार 5 मिनट में तैयार कर देती थी 3 नकली नाेट, खुद के नाम की जगह दूसरे का नाम जाेड़कर देती थी फर्जी अंकसूची

 युवती मंगलवार शाम किरण टाॅकीज चौराहे पर 100 रुपए का नकली नाेट लेकर पहुंची थी। इस दाैरान लोगों ने उसे पहचान लिया। पुलिस ने सूचना के बाद युवती के घर दबिश देकर नकली 7100 रुपए व सामाग्री जब्त की। बुधवार काे युवती के घर से नकली नाेट छापने की अन्य सामाग्र, एसअाई की वर्दी अाैर दस्तावेज पुलिस ने जब्त किए। 

डेमाे देकर बताया युवती ने कैसे बनाए नकली नाेट 

युवती ने बुधवार काे डेमाे देकर भी बताया कि उसने कैसे नकली नाेट तैयार किए। युवती ने मात्र 5 मिनट में ही तीन नकली नाेट तैयार कर दिए। युवती ने असली नाेट काे कागज पर चिपकाकर उसकी कलर प्रिंट ली। उसके बाद कलर सेलाे टेप के 6 बारीक टुकड़े किए अाैर उन्हें नाेट पर चिपका दिए। यानी 5 मिनट में ही तीन नकली नाेट हूबहू असली की तरह तैयार हाे गए। 

बुलबुल परमार 5 मिनट में तैयार कर देती थी 3 नकली नाेट, खुद के नाम की जगह दूसरे का नाम जाेड़कर देती थी फर्जी अंकसूची

ऐसी बनाई फर्जी अंकसूची बुलबुल ने फर्जी अंकसूची भी तैयार की है

पुलिस काे दस्तावेजों में एक युवती के नाम से बनी फर्जी अंकसूची भी मिली है। बुलबुल स्वयं के ग्रेज्युएशन की अंकसूची की कलर प्रिंट निकालकर उस पर अन्य के नाम की स्लिप चिपकाती थी। इसके बाद उसकी फाेटाेकाॅपी करती अाैर फिर कलर प्रिंट निकालकर फर्जी अंकसूची बना देती। हालांकि पुलिस ने अभी इसे लेकर बुलबुल से पूछताछ नहीं की है, लेकिन पुलिस इस पहलू पर भी जांच कर रही है।

एसआई के साथ एफबीआई एजेंट का मिला फर्जी आईडी कार्ड 

बुलबुल मेधावी छात्रा है, उसका एकेडमिक रिकाॅर्ड बेहतर रहा है। उसने तीन विषयाें में मास्टर डिग्री कर रखी है। बुलबुल ने 2017 में ही एफबीआई एजेंट का फर्जी आईडी कार्ड बना लिया था। उसके बाद मप्र पुलिस उपनिरीक्षक का फर्जी आईडी कॉर्ड बनाकर पुलिस की वर्दी पहनकर अपना रौब दिखाने लगी थी। अब पुलिस उसके लेपटाॅप, मोबाइल की कॉल डिटेल से जानकारी खंगाल रही है कि उसने अकेले ही यह नाेट चलाए या फिर इसका काेई साथी भी है। पुलिस के मुताबिक बुलबुल ज्यादा समय इंदाैर रही है, एेसे में पुलिस इंदाैर से भी जानकारी जुटाने में लगी हुई है। 

बुलबुल परमार 5 मिनट में तैयार कर देती थी 3 नकली नाेट, खुद के नाम की जगह दूसरे का नाम जाेड़कर देती थी फर्जी अंकसूची

इन धाराओं में हुआ प्रकरण दर्ज 

पुलिस ने युवती पर नकली नाेट बनाकर चलाने के मामले में 489 क, ख, ग, घ व 420 में प्रकरण दर्ज किया है। इस धारा के तहत आजीवन की सजा हाेती है। वहीं धारा 420 धोखाधड़ी में 7 साल का कारावास व जुर्माने का प्रावधान है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक मामले में जांच के बाद कूटरचित दस्तावेज करने में धारा 471 बढ़ सकती है। 

इनका कहना युवती के घर से उपकरण, दस्तावेज जब्त किए गए है। हर पहलू पर बारीकी से जांच की जा रही है।

 श्यामचंद्र शर्मा, थाना प्रभारी