ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
एक इंजीनियर निलंबित, दो से डीई के प्रभार वापस लिए
October 22, 2019 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID
एक इंजीनियर निलंबित, दो से डीई के प्रभार वापस लिए

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

  • -तीन को वेतनवृद्धि रोकने का नोटिस, कामकाज में लापरवाही-एमडी ने अपनाए कड़े तेवर
  • -उपभोक्ता सेवाएं एवं कंपनी के राजस्व को लेकर एक बार फिर चेताया

इंदौर। मप्रपक्षेविविकं इंदौर के एमडी श्री विकास नरवाल ने लापरवाही बरतने वाले इंजीनियरों को एक बार फिर चेताया हैं। गंभीर लापरवाही करने पर आलोट के डीई को निलंबित किया गया, वहीं बड़वानी के दो एई से प्रभारी डीई का चार्ज वापस लेकर सभी सुविधाएं वापस बुला ली गई। तीन डीई का कामकाज ठीक नहीं होने पर दो-दो वेतनवृद्धि रोकने के नोटिस जारी किए गए हैं।

इसे भी पढ़ें :- नटवरलाल और जनसंपर्क – पार्ट 1 : जनसम्पर्क ने किया आइसना के विज्ञापन 2 लाख का भुगतान चिटरबाज अवधेश भार्गव के हवाले

पोलोग्राउंड स्थित बिजली कंपनी मुख्यालय रविवार की शाम बैठक में चौदह सर्कल के अधिकारियों से बात करते हुए श्री नरवाल ने कहा कि बिजली ठीक देना, बिल समय पर जारी करना एवं समय पर राशि वसूलना हमारा दायित्व हैं। इन काम में लापरवाही बरतने वाले किसी भी कर्मचारी, अधिकारी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि जावरा में पदस्थी के दौरान वित्तीय अनियमितता सामने आने पर वर्तमान में आलोट डीई श्री नवीन ढोले को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के आदेश दिए गए। इसी के साथ बड़वानी के प्रभारी डीई श्री गौरव सोनी, पीसी कसोटिया से डीई के प्रभार वापस लेकर एई के रूप में पदावन किया गया। इनकी सभी सुविधाएं वापस ली गई। इसी तरह डीई श्री जेपीएस ठाकुर उज्जैन, राजीव पटेल महिदपुर, विकास कुमार तराना को दो-दो वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश जारी किए गए।

इसे भी पढ़ें :- सनसनीखेज अपहरण प्रकरण का खुलासा, कल्पना से परे रची फरियादी ने अपहरण की साजिश

एमडी श्री नरवाल ने आगर, रतलाम, इंदौर ग्रामीण, रतलाम के अधीक्षण यंत्री को कामकाज में तत्काल सुधार के लिए चेताया। इस दौरान दिवाली के मुख्य दिवसों को छोड़कर बकायादारों के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश जारी किए गए। प्रत्येक जिले के राजस्व प्रभारी नोडल अधिकारी से भी श्री नरवाल ने संवाद किया व उन्हें डिविजन स्तर पर सीधे रोज बात करने को कहा। इस बैठक में बताया गया कि एक माह में लंबे समय से बकाया राशि न भरने वाले करीब पचास हजार लोगों के यहां डिसकनेक्शन किया गया था, इनमें करीब 17 हजार इंदौर शहर के रहे। इंदौर साउथ के डीई श्री आरपी सिंह को भी राजस्व वसूली में पिछड़ने पर चेताया गया।

इसे भी पढ़ें :- तालाब के पास लेबर सप्लायर के जघन्य अंधे हत्याकांड का 60 घंटों में सनसनी खुलासा

श्री नरवाल ने किसानों की मोटर का लोड बढ़ाने का अभियान 30 नवंबर तक बढ़ाने के निर्देश भी दिए। घरेलू बिजली से दुकान चलाने वालों को गैर घरेलू कनेक्शन तत्काल प्रदान करने को कहा गया। ग्रामीण क्षेत्र के पक्के घरों में मीटराइजेशन का पहला चरण 1 नवंबर से प्रारंभ करने का ऐलान हुआ, यह दो माह सतत चलेगा। बैठक में सीजीएम श्री संतोष टैगोर, डायरेक्टर श्री मनोज झंवर, ईडी श्री संजय मोहासे, वरिष्ठ इंजीनियर एसएल करवाड़िया, आरएस खत्री, पुनीत दुबे, सुब्रतो राय, अशोक शर्मा, कामेश श्रीवास्तव आदि ने मुख्यालय व अन्य स्थानों से वीडियो कान्फ्रैंस से विचार रखे।

इसे भी पढ़ें :- भाजपा के पूर्व विधायक की 'गायब' बेटी का वीडियो सामने आया बोली मैं किसी के साथ नहीं, अकेली आई हूं, घर में थी परेशान

तीन दिन बाद प्रारंभ होंगे सहज सेवा वाहन

एमडी श्री नरवाल ने बताया कि तीन दिन बाद इंदौर पोलोग्राउंड से सहज भुगतान सेवा वाहन की ग्रामीण क्षेत्र के लिए शुरुआत होगी। कंपनी क्षेत्र में रथ प्रकार के सजे धजे व ग्रामीण उपभोक्ताओं से बिल की आन लाइन वसूली के लिए ये वाहन धनतेरस से पहले प्रारंभ हो जाएंगे। सबसे ज्यादा वाहन इंदौर ग्रामीण, देवास, धार के लिए मंजूर किए जा रहे हैं। ये वाहन कंपनी व शासन की योजनाओं का भी प्रचार करेंगे। इन वाहनों में एमपी आन लाइन व एनआईसीटी के एजेंट रहेंगे। वाहनों के जरिए भुगतान पर ग्राहकों को आन लाइन, केशलैंस की 5 से 20 रूपए तक की छूट भी मिलेगी, जो अगले बिल में दी जाएगी।