ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
गांव-गांव में शुरू हुआ बैठकों का दौर, घर में ताप्ती जन्मोत्सव मनाने की दे रहे समझाईश
June 18, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
गांव-गांव में शुरू हुआ बैठकों का दौर, घर में ताप्ती जन्मोत्सव मनाने की दे रहे समझाईश 

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 

मुलताई । सूर्यपुत्री मां ताप्ती उद्गम स्थल महाआरती समिति मुलतापी द्वारा मां ताप्ती का जन्मोत्सव सौ गांवों में घर-घर मनाया जाएगा। समिति द्वारा इसके लिए लगातार गांव-गांव में घर-घर जाकर लोगों से घर में ही मां ताप्ती का जन्मोत्सव मनाने का आग्रह कर रही है।

गुरूवार को जौलखेड़ा, सर्रा, बाड़ेगांव, हेटी, खतेड़ाकला, मासोद, रायआमला सहित आष्टा एवं अन्य गांवों में समिति के सदस्यों द्वारा बैठक लेकर सभी से घरों में रहकर मां ताप्ती का जन्मोत्सव मनाने का आग्रह किया।

ताप्ती भक्त गणेश साहू ने बताया कि   कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस साल सभी से घरों में रहकर मां ताप्ती का जन्मोत्सव भव्यतम तौर पर मनाने का आग्रह किया है। समिति सदस्यों ने बताया कि इस अवसर पर एक सप्ताह तक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिसमें 20 जून को ताप्ती जल कलश स्थापना सौ गांवों में ग्रामीण अपने-अपने घरों में करेंगे। सभी गांवों में ताप्ती जल मुलताई से पहुंचाया जाएगा।

21 जून  अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सभी लोग अपने-अपने घरों में सामूहिक योग करेंगे। 22 जून को स्वच्छता कार्यक्रम चलाया जाएगा। सभी अपने-अपने घरों, देवालयों, मंदिरों में साफ-सफाई करेंगे और मंदिरों में ध्वजारोहण करेंगे। 23 जून को सौ गांवों में पांच औषधीय पौधों का परिवारों द्वारा रोपण किया जाएगा। 24 जून को गौ पूजन एवं पंचगव्य सेवन संकल्प एवं संगोष्ठी का आयोजन अपने-अपने परिवारों में किया जाएगा। 25 जून को कोरोना योद्धाओं का सम्मान गांवों में किया जाएगा। 26 जून को मां ताप्ती बनो प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

जिसमें बच्चों को अपने-अपने घरों में ताप्ती बनना है और उसके फोटो सोशल मीडिया पर डालना है। इसी दिन शाम को 7 बजे से महाआरती का आयोजन किया गया, सभी अपने-अपने घरों से मां ताप्ती की महाआरती करेंगे। 27 जून को मां ताप्ती जन्मोत्सव के अवसर पर परिवारों में यज्ञ एवं शाम को 7 बजे सभी अपने-अपने घरों में दीपोत्सव मनाएंगे। समिति द्वारा सभी से उक्त कार्यक्रमों को उचित शारारिक दूरी एवं मास्क का उपयोग करते हुए मनाने का आग्रह किया गया है।