ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
हजारों यात्री होते हैं प्रतिदिन परेशान, बरगवां में जल्द बने बस स्टैंड जनता की माँग
October 12, 2019 • VINAY G. DAVID
हजारों यात्री होते हैं प्रतिदिन परेशान, बरगवां में जल्द बने बस स्टैंड जनता की माँग 

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

जिला ब्यूरो चीफ सिंगरौली  // नीरज गुप्ता  7771822877 

रगवां की जरूरत बना बस स्टैंड निर्माण

बरगवां/ यातायात की व्यस्तता के बावजूद बरगवां में बस स्टैंड की कमी इस कदर पहली है कि मार्ग के किनारे सैकड़ों यात्रियों को यात्री वाहनों के लिए हर समय इंतजार करना पड़ता है, 

मगर हमारी निर्वाचित माननीय तो इस बारे में सोचते ही नहीं, जबकि वर्गों में बस स्टैंड होना बहुत ही आवश्यक हो चुका है जिसके लिए अब आम जन को आगे आना चाहिए

बस स्टैंड का नहीं हुआ सपना साकार

वर्गों में वर्षों पूर्व विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण सिंगरौली के अधीन यह क्षेत्र के विकास की बातें तेजी से हुई थी, मगर उसी समय विकास प्राधिकरण का नगर निगम का स्वरूप देकर नगर निगम क्षेत्र से बरगवां को मुक्त क्या किया गया मानव विकास सुनीता पर पहुंच गया, विकास की अलग क्षेत्रीय विधायक रहे स्वर्गीय श्री छत्रपति सिंह ने अपने संघर्ष के दिनों पर गांवों को विकसित करने के लिए अनेक लड़ाइयां लड़ी थी पर उनके जाने के बाद बरगवां का विकास फिर भटक गया बरगवां के लिए भले ही अपने सांसद महोदय हो या विधायक जी बड़े-बड़े बातें करते हो पर विकास के नाम पर पर घुमा के नागरिकों को धोखा ही मिला है वर्तमान जनप्रतिनिधि वर्मा के मूलभूत समस्याओं के प्रति जवाब दे नहीं दिखते जिसके चलते बरगवां अभी भी प्रमुख मुद्दों पर उलझा हुआ है

इसे भी पढ़ें :- नटवरलाल और जनसंपर्क – पार्ट 1 : जनसम्पर्क ने किया आइसना के विज्ञापन 2 लाख का भुगतान चिटरबाज अवधेश भार्गव के हवाले

मार्ग के यातायात का विकास बाजार को बनाया कंगाल

कभी सड़कों के किनारे बसने वाला आज बरगवां के इर्द-गिर्द विकास के नाम पर उद्योगों का जाल बना पर इन उद्योगों ने बरगवां का उपयोग किया जिससे बर्गवा आज सबसे प्रदूषित बाजार बन गया है चारों ओर कचड़े गंदगी से पटा बरगवां पंचायत के नाम पर सिसक रहा जिसके विकास की परिकल्पना कभी तत्कालीन कलेक्टर पी नरहरि जी ने की थी परंतु उनके जाने के बाद बरगवां का रूप और भी भयावह हो गया जिसके कारण हमारे निर्वाचित जनप्रतिनिधि रहे हैं जो बर्गवा को विकास होने में अपना योगदान देना ही भूल गए

इसे भी पढ़ें :- शिवराज सरकार ने अरबो रुपये खर्चा करके सालो तक इंदौर में इन्वेस्टर मीट आयोजित की पर मध्यप्रदेश में 1 रुपये का भी निवेश नही आया, जनता के साथ धोखाधड़ी 

बस स्टैंड हुआ आवश्यक

बर्मा बाजार उत्तम यातायात पर बने बाजार में जहां रेलवे स्टेशन भी हैं और रेल यात्रा के लिए जिला मुख्यालय ही नहीं देवसर ब्लाक मुख्यालय के लिए भी सुलभ है परंतु हजारों रेलयात्री हो या हजारों की संख्या में बस यात्री रोजाना से आवागमन करते हैं और बस स्टैंड के अभाव के चलते भारी परेशानियों से गुजरते हुए अपनी यात्रा को चलते हैं जिसके लिए अब आमजन को पहल करनी होगी कि वर्गों में बस स्टैंड अतिशीघ्र बने जिससे यात्रियों की परेशानी ही नहीं बल्कि बरगवां यातायात सुगम होने के सात बाजार भी सुरक्षित हो

इसे भी पढ़ें :- मनमोहन के मुकाबले मोदीराज में 38 गुना बढ़े बैंक घोटाले, 1860 से बढ़कर 71500 करोड़ हुआ घोटाला

माननीय कलेक्टर महोदय करें पहल

बरगवां ने बस स्टैंड निर्माण कराए जाने ने भले ही निर्वाचित माननीय लापरवाह रहे हो पर जिले के कलेक्टर महोदय बर्गवा में हजारों यात्रियों को प्रतिदिन होने वाली परेशानी को ध्यान में रखते हुए वर्गों में जल्द ही बस स्टैंड की सौगात देने के लिए आगे आना चाहिए जो प्रवाह के साथ ही पूरे जिले  के विकास की कड़ी भी बनेगा और बरगवां के आम जनमानस को भी काफी लाभ होगा