ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
जबलपुर में कर्त्तव्यों के प्रति उदासीनता बरतने के आरोप में दो सहायक आपूर्ति अधिकारियों को संभागायुक्त महेश चन्द्र चौधरी ने किया निलंबित
April 23, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
जबलपुर में कर्त्तव्यों के प्रति उदासीनता बरतने के आरोप में दो सहायक आपूर्ति अधिकारियों को संभागायुक्त महेश चन्द्र चौधरी ने किया निलंबित

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ जबलपुर // प्रशांत वैश्य : 79990 57770

दो सहायक आपूर्ति अधिकारियों सुधीर दुबे व संजय खरे को तत्काल प्रभाव से निलंबित

जबलपुर, संभागायुक्त महेश चन्द्र चौधरी ने कोरोना वायरस की केन्द्र शासन द्वारा जारी सूचना के बाद भी कार्यालय में उपस्थित नहीं होने और अपने पदीय कर्त्तव्यों एवं उत्तरदायित्वों के विपरीत आचरण कर घोर उदासीनता एवं स्वेच्छाचारिता बरतने के आरोप में जबलपुर जिले के दो सहायक आपूर्ति अधिकारियों सुधीर दुबे व संजय खरे को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है । 

निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय कलेक्टर कार्यालय जबलपुर निर्धारित किया गया है और इन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी ।

निलंबित सहायक आपूर्ति अधिकारी द्वय श्री दुबे एवं श्री खरे द्वारा बताया गया था कि वे अपने निवास स्थान से ही शासकीय कार्य निष्पादित कर रहे हैं, लेकिन जब जिला आपूर्ति नियंत्रक जबलपुर ने इन्हें कार्यालय में उपस्थित होने के लिए मोबाइल पर कई बार सूचना दी । इसके बाद भी दोनों कार्यालय में उपस्थित नहीं हुए । श्री दुबे एवं श्री खरे ने पुन: बताया कि वे अपने निवास से कार्यालय एवं फील्ड से संबंधित समस्त कार्य संपादित कर रहे हैं ।

इस संबंध में दोनों सहायक आपूर्ति अधिकारियों को 13 अप्रैल को कलेक्टर जबलपुर द्वारा कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था ।  अपने दिए जवाब में दोनों अफसरों ने बताया कि स्वास्थ्य संबंधी कारणों से वे अपने घर से ही कार्यालय एवं फील्ड का कार्य संपादित कर रहे हैं ।  लेकिन जिला आपूर्ति नियंत्रक द्वारा अभिमत दिया गया कि श्री दुबे एव श्री खरे कार्यालयीन कार्य हेतु कार्यालय में उपस्थित नहीं हुए ।

जिला आपूर्ति ‍नियंत्रक के अभिमत और सहायक आपूर्ति अधिकारी द्वय सुधीर दुबे और संजय खरे द्वारा कर्त्तव्यों के प्रति बरती गई उदासीनता एवं स्वेच्छारिता के कारण संभागायुक्त महेश चन्द्र चौधरी ने इन दोनों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है ।  अधिकारी द्वय का कृत्य कदाचरण की श्रेणी में आता है और दण्डनीय भी है ।