ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में 15 जून से पर्यटन प्रारंभ मुक्की गेट पर पर्यटकों की होगी थर्मल स्क्रीनिंग
June 13, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में 15 जून से पर्यटन प्रारंभ मुक्की गेट पर पर्यटकों की होगी थर्मल स्क्रीनिंग

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास 83196 08778

बालाघाट. कोरोना संक्रमण के कारण पर्यटकों के लिये बंद किये गये कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में 15 जून से सफारी शुरू की जा रही है।

पर्यटकों और संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों को इस दौरान शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। सफारी के लिये ऑनलाइन टिकिट सुविधा पहले की तरह आरंभ हो गई है। प्रबंधन द्वारा पार्क भ्रमण में जाने वाले वाहनों के लिये विशेष रूप से सेनेटाईजर स्थल का निर्माण किया गया है। सभी वाहन इस 6 फीट चौड़े 3 फीट लंबे और 12 सेंटीमीटर गहरे स्थल से गुजरने के बाद ही पार्क में प्रवेश करेंगे।

कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने कान्हा नेशनल पार्क के बालाघाट जिले में आने वाले मुक्की प्रवेश द्वार पर पर्यटकों की थर्मल स्क्रीनिंग एवं स्वास्थ्य जांच के लिए चिकित्सक एवं उनके स्टाफ की ड्यूटी लगाई है। मुक्की गेट पर पर्यटकों की थर्मल स्क्रीनिंग एवं स्वास्थ्य जांच के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बैहर के डॉ धनराज कोकोटे, वन औषधालय मुक्की के कंपाउंडर श्री दिनेश पटेल एवं नर्स कार्य के लिए सुश्री हिरेश्वरी ठाकरे एवं मुक्की की आशा कार्यकर्त्ता श्रीमती ज्ञानवंती टेकाम की ड्यूटी लगाई गई है।

कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में अलग-अलग समूहों से आए पर्यटकों को केवल 4 की अनुमति होगी। वहीं एक ही परिवार से आए 6 लोग एक वाहन में भ्रमण कर सकेंगे। केंटर वाहनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिये 18 की जगह 12 व्यक्ति और 2 गाईड के स्थान पर एक ही गाईड जा सकेगा। 10 वर्ष से कम और 65 वर्ष से अधिक आयु के पर्यटकों को प्रवेश नहीं दिया जायेगा।

पर्यटक, कर्मचारी, गाईड, वाहन चालकों को मास्क और सेनेटाईजर का उपयोग करना अनिवार्य होगा। सभी प्रवेश द्वारों पर स्वास्थय विभाग के दल द्वारा थर्मल स्क्रीनिंग की जायेगी। यदि किसी पर्यटक का तापमान अधिक पाया जाता है तो उन्हें प्रवेश द्वार के पास बने आईसोलेशन कक्ष में रखा जायेगा।