ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
लाक डाऊन के कारण कहीं भाईयों की सूनी रही कलाई तो कहीं बहनें देखते रही भाई की राह, सोशल मीडिया पर भाई-बहनों ने मनाया रक्षा बंधन
August 3, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
लाक डाऊन के कारण कहीं भाईयों की सूनी रही कलाई तो कहीं बहनें देखते रही भाई की राह, सोशल मीडिया पर भाई-बहनों ने मनाया रक्षा बंधन

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 

मुलताई। इस वर्ष रक्षा बंधन पर्व पर लाक डाऊन होने से कहीं भाईयों की कलाई सूनी रही तो कहीं बहनें अपने भाई की राह निहारते रह गई। आवागमन बंद होने से रक्षा बंधन पर्व पर इसका सीधा असर पड़ा वहीं प्रशासन द्वारा आवागमन करने वालों पर लगातार कार्यवाही की गई। 

हालांकि नगर सहित पूरे क्षेत्र में रक्षा बंधन का त्योहार पूरे हर्षोल्लास से घरों में रहकर मनाया गया तथा बहनों ने अपने भाई की कलाई पर राखी बांधकर उससे रक्षा का वचन लिया गया। इस वर्ष मार्च के बाद से सभी प्रमुख त्योहार लाक डाऊन के साये में ही संपन्न हो रहे हैं जिससे फिलहाल सभी त्योहारों की मात्र औपचारिकता पूर्ण हो रही है। सोमवार  सुबह से ही लाक डाऊन के कारण सभी ओर सुनसान रहा तथा दुकानें बंद होने से राखी का त्योहार पूरी तरह प्रभावित नजर आया। दुकानों के बंद रहने से लोगों को मिष्ठान्न तथा नारियल सहित फलों के लिए परेशान होना पड़ा इसलिए रेडीमेड मिठाई की जगह घरों में ही बनी मिठाई से बहनों ने अपने भाईयों का मुंह मीठा किया। 

नहीं जा सके भाई बहनों से मिलने

रक्षा बंधन के पर्व पर पूरे क्षेत्र में आवागमन बढ़ जाता है तथा विशेष तौर पर राखी के एक दिन पूर्व जहां बहनें विभिन्न साधनों से भाईयों के घर पहुंचती है वहीं भाई भी बहनों के घर जाते हैं। इस वर्ष पूर्व से लाक डाऊन होने से भाई अपनी बहनों से मिलने नही जा सके वहीं भाईयों के घर आने वाली बहनें भी भाईयों से नही मिल सकी। लाक डाऊन के कारण आवागमन पूरी तरह ठप्प रहा वहीं आवागमन करने वालों पर प्रशासन का डंडा चलने से लोगों ने इस वर्ष घरों में ही रहना उचित समझा। 

सोशल मीडिया पर हुआ रक्षा बंधन

तकनीकि विकसीत होने से आजकल त्योहार भी हाईटेक हो चुके हैं। इस वर्ष लाक डाऊन चलते सोशल मीडिया के माध्यम से ही राखी त्योहार मनाया गया। जहां भाई अपने बहनों के घर नही जा सके उन्होने सोशल मीडिया एवं मोबाईल पर वीडियों काल के माध्यम से राखी का त्योहार मनाया साथ ही एक दूसरे को शुभकामनाएं भी दी। वीडियो काल ने बहनों एवं भाईयों के बीच की दूरी मिटाते हुए लाक डाऊन की वजह से नही मिलने की कमी पूरी कर दी जिससे रक्षा बंधन के दिन खूब वीडियो काल किए गए तथा लोगों ने सहपरिवार एक दूसरे से बातें भी की। 

छोटे दुकानदारों का धंधा हुआ चौपट

लाक डाऊन होने से रक्षा बंधन पर नगर में फुटपाथ पर राखियों का धंधा करने वाले छोटे व्यापारियों का पूरी तरह इस वर्ष धंधा चौपट हो गया। लगभग 12 से 15 दिन पहले से मुख्य मार्ग के आसपास अस्थाई दुकानें लगाकर राखियों का व्यवसाय करने वाले व्यापारियों द्वारा इस वर्ष ऊहापोह की स्थिति बनी रही जिससे राखी के मात्र कुछ दिन पूर्व ही उन्हे अस्थाई दुकान लगाने की प्रशासन द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई। 

दुकानदारों द्वारा दुकानें लगाकर धंधा चालू ही किया गया था कि लाक डाऊन लगने से उनकी दुकानें बंद हो गई जिससे बड़ी मात्रा में राखी का माल उनके पास बच गया। राखी का व्यवसाय करने वाले व्यापारियों ने बताया कि धंधे के दिनों में ही लाक डाऊन लगने से अधिकांश माल बच गया है जिससे उन्हे आर्थिक तौर पर परेशानियां झेलना पड़ेगा वहीं कर्ज के साथ-साथ उन्हे विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ेगा।