ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
लॉक डाऊन का मतलब टोटल लॉक डाऊन है - सीएसपी रत्नाकर
April 4, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़

लॉक डाऊन का मतलब टोटल लॉक डाऊन है - सीएसपी रत्नाकर

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

जहाँ है उद्दंडता, वह है पुलिस का डण्डा। - एसडीएम वर्मा

नागदा जं.। औद्योगिक शहर नागदा के मण्डी थाना तथा बिरला ग्राम थाने पर शांती समिति की बैठक रखी गई जिसमे कोरोना के संक्रमण को देखते हुवे सोसल डिस्टेंस का पालन करते हुवे बैठक की गई ।

क्या कहा नगर पुलिस अधीक्षक ने

लॉक डाऊन मे वैसे तो हर वर्ग और समाज के लोगो का सहयोग मिल रहा है फिर भी हमे कोविड-19 कोरोना वायरस से निपटने के लिये सतर्कता बरतना होगी। अपने स्थर पर ज्यादा से ज्यादा लोगो को लॉक डाऊन का पालन कराया जाये। वही यह भी देखने मे आया है कि अनावश्यक रुप से लोग मोटरसाइकिल एवं चार पहिया वाहनो से घुमते दिखाई देते है। लॉक डाऊन का मतलब टोटल लॉक डाऊन है। यदि सभी लोग इसका पालन करेंगे तो भविष्य मे इसका लाभ हमे ही मिलेगा,यदि यह वायरस फैलता है 

तो सभी लोग प्रभावित होंगे। पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही समाज के हितो को ध्यान मे रखते हुव की जाती है इसे सकारात्मक रुप से ले। वही राजस्व विभाग,स्वास्थ्य विभाग एव पुलिस प्रसासन की पुरी टीम आप के लिये लगी हुई है। यदि बाहर से कोई व्यक्ति आता है तो उसकी जानकारी स्वास्थ विभाग या पुलिस को दे। उसकी स्वास्थ जाच कि जाएगी,घबराये नही पुरा सहयोग प्रसाशन करेगा। क्यो की संक्रमण का पता 14 दिन बाद चलता है जब तक देर हो चुकी होगी। वही सभी धर्म गुरु एव समाज का पुर्ण सहयोग प्राप्त हो रहा है ओर सभी इस विपत्ति को समझ रहे है। वही सभी के सहयोग के लिये धन्यवाद भी प्रेषित किया।

क्या कहना था अनुविभागीय अधिकार श्री वर्मा का

सभी धर्म गुरुओ का सहयोग मिल रहा है,दुरी बनाये ओर सुरक्षित रहे।वही कोरोना से जंग मे जैन समाज,हिन्दू धर्म गुरु,पादरी साहब,काजी साहब सभी का भरपुर सहयोग मिल रहा है। वही श्री वर्मा ने अपनी बातों पर जोर देते हुवे कहा की घर मे रहे,घर मे रहे ओर घर मे ही रहे। सोसल डिस्टेंस जितना अपनायेगे उतना ही सभी लोग सुरक्षित रहेंगे। क्यो की देखा जा रहा है की सारे संसाधन होने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे है।इस लिये सभी अभिभावको एव परिवार के मुखिया से विनम्र अपील है की परिवार मे सभी को घर मे ही रहने के लिये बाध्य  करे। देखने मे आया है की कूछ बच्चे मान ही नही रहे है घरो से निकलते है  मेडिकल से दवाई लाने के लिये और 2 रुपय की विक्स की गोली लाते है। वही दुसरे गांवों से लोग शहरों मे आते है ओर जो दवाईया यहा लेते है वह हर जगह मिलती है। यह सारी सूचनाये पत्रकारों एव आप लोगो से मुझे बराबर प्राप्त हो रही है। जिस पर तुरंत कार्यवाही की जायेगी ।

जहाँ उद्दड्टा है वही पुलिस का डण्डा भी है।

इसी लिये सभी को जागृत करे।

उज्जैन जिले मे नागदा सबसे आगे चल रहा है जिसमे शहरवासीयों की महती भूमिका रही है अगले 10 दिनो मे यही स्थिति रही तो लॉक डाऊन आगे बढ़ जाएगा।अगले 10 दिनो मे यह स्पस्ट होगा की आगे की क्या रुपरेखा बनती है।

आने वाला समय निर्धारित करेगा की हम कितने सुरक्षित है।

थाना प्रभारी श्याम चन्द्र शर्मा ने कहा की 99 प्रतिशत लोग लॉक डाऊन का पालन कर रहे है केवल 1 प्रतिशत लोग ही है जो पुलिस के लिये परेशानी का सबब बने हुवे है। यह आने वाला वक्त निर्धारित करेगा की हम कितने सुरक्षित है।

बैठक मे यह रहे मौजूद

बैठक मे तहसीलदार विनोद शर्मा,नायब तहसीलदार सलोनी पटवा,आर आई आर के मित्तल,पटवारी अनिल शर्मा,मिर्जा नाहिद बेग सहित गणमान्य जन मौजूद रहे।