ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
लॉक डाउन के बीच स्वच्छ पेयजल आपूर्ति के लिए जुटा हुआ है लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग
April 22, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
लॉक डाउन के बीच स्वच्छ पेयजल आपूर्ति के लिए जुटा हुआ है लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

  • बिगड़े पम्पों को सुधारने व क्लोरीनेशन का कार्य जोरों पर
  • सोशल डिस्टेंसिंग का भी हो रहा है पालन

रायगढ़, कोविड-19 से निपटने के लिए लॉक डाउन और इस बीच बढ़ती गर्मी ग्रामीण इलाकों में पेयजल के बड़े स्त्रोत हैंडपंपों के लिए परेशानी का सबब बन सकते थे। किंतु लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा लगातार बिगड़े हैंडपम्पों को सुधारने तथा स्वच्छ पेयजल आपूर्ति के लिए पम्पों के क्लोरीनेशन का कार्य जोरों पर है।

गर्मी के मौसम में हैंडपंप बिगडऩे या सूखने की समस्या प्राय: देखी जाती है। लॉक डाउन में समस्या और गंभीर हो सकती है। ऐसे में ग्रामीण जन को पीने के पानी के लिए जद्दोजहद ना करना पड़े इसको दृष्टिगत रखते हुए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा पम्पों के सुधार कार्य हेतु विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें :- गुलाब सिंह बघेल ने मृतक को दी मुखाग्नि ख़बर झूठी : कोरोना संक्रमित मृतक प्रेम मेवाड़ा के पुत्र संदीप मेवाड़ा ने लगाया प्रशासन और तहसीलदार गुलाब सिंह बघेल पर झूठी वाहवाही लूटने का आरोप, वीडियो में बताई हकीकत

पी.एच.ई. विभाग के कार्यपालन अभियंता श्री संजय सिंग से मिली जानकारी अनुसार लॉक डाउन के बीच लोगों को पीने का पानी मिलता रहे इसके लिए विभाग का पूरा अमला जुटा हुआ है। रायगढ़ जिले में पिछले 15 दिनों में 205 समस्याग्रस्त और बिगड़े पम्पों को सुधारा गया। साथ ही 14992 पम्पों में स्वच्छ पेयजल हेतु पानी की सफाई करने के लिए तरल क्लोरीन डाल कर क्लोरीनेशन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

इसे भी पढ़ें :- पुलिस की अंधाधुन पिटाई से किसान की मौत, फरियादी के मरणोपरांत बयान वीडियो देखें, SP अमित सिंह को हटाया

इसके अलावा जिले में वैकल्पिक व्यवस्था हेतु 2696 पावर पम्प भी चल रहे हैं। पम्पों के सुधार कार्य में लगे कर्मचारी व मैकेनिक द्वारा मास्क लगाने के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों तथा अन्य सुरक्षात्मक उपायों का भी पालन किया जा रहा है।