ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
मेडिकल स्टाफ की गुण्डागर्दी, यह हत्या नही है तो क्या है ?
August 9, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ जबलपुर // प्रशांत वैश्य : 79990 57770

मेडिकल स्टाफ की लापरवाही एवं श्री राजकुमार जैन की तडपते हुए हुई मौत का विडियो उनके बेटे के मोबाइल मे था जो की भविष्य मे सबूत के तौर पर काम आता। इसके अलावा अन्य दो मोबाइल तथा एक सोने की चेन एवं अंगूठी भी उन आताताइयों ने छीन ली ।

मेडिकल स्टाफ की गुण्डागर्दी - यह हत्या नही है तो क्या है ?

जबलपुर स्थित "भाग्यश्री ट्रांसपोर्ट" के संचालक श्री राजकुमार जैन को दिनांक 06 अगस्त को न्यूमोनिया एवं सांस लेने मे तकलिफ के कारण मेडिकल कालेज मे भर्ती किया गया।

राजकुमार जैन की तडपते हुए हुई मौत

उन्हे कोविड 19 के संदिग्ध वार्ड मे आक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया। आज उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई अर्थात उन्हे कोरोना नही था। मेडिकल स्टाफ द्वारा उन्हे कोरोना संदिग्ध वार्ड से जनरल वार्ड मे शिफ्ट करने के दौरान उनका आक्सीजन सपोर्ट निकाल दिया गया। आक्सीजन न मिलने के कारण उनको भयंकर तकलिफ होने लगी।

इसी दौरान वहां मौजूद उनका बेटा लगातार 20 - 25 मिनट तक वार्ड के बीच मे खड़े होकर चीखता रहा की उनको आक्सीजन लगाईये पर किसी ने उसकी नही सुनी, और अंततः पुत्र के सामने ही पिता ने मात्र आक्सीजन की कमी के कारण तडपते हुए प्राण त्याग दिए। यह हत्या नही है तो क्या है

वीडियो पर क्लिक करके देखें पूरी वीडियो ख़बर ...

.

परिजनों के वहां पहुचने पर तनिक आक्रोशित होना स्वाभाविक था, किन्तु पत्थर हृदय मेडिकल स्टाफ ने बजाए सांत्वना देने के सभी को एक वार्ड मे बंद कर लाइट आफ कर बेरहमी से मारा एवं पीटा।

मेडिकल स्टाफ की लापरवाही एवं श्री राजकुमार जैन की तडपते हुए हुई मौत का विडियो उनके बेटे के मोबाइल मे था जो की भविष्य मे सबूत के तौर पर काम आता।इसके अलावा अन्य दो मोबाइल तथा एक सोने की चेन एवं अंगूठी भी उन आताताइयों ने छीन ली ।

मेडिकल स्टाफ ने मारपीट के दौरान वह मोबाइल को भी तोड़ दिया और अब बारी प्रशासन के गुण्डागर्दी की - सभी शोक संतप्त परिजनों को गढ़ा पुलिस थाने मे बिठाकर रखा गया ।

आप सभी से विनम्र अनुरोध है कि इस मैसेज को अपने सभी परिचितों को भेजें एवं यथासम्भव अपने स्तर पर इस अमानवीय कृत्य का पुरजोर विरोध करें। आज जो घटना जैन परिवार मे हुई है, भविष्य मे वो हम मे से किसी के साथ भी हो सकती है।