ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
पत्रकार गिरी पर लगाए झूठे आरोप, प्रेस क्लब ने जांच एवं दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर पुलिस महानिरीक्षक को सौंपा ज्ञापन
July 11, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़

पत्रकार गिरी पर लगाए झूठे आरोप, प्रेस क्लब ने जांच एवं दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर पुलिस महानिरीक्षक को सौंपा ज्ञापन

 

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

कायथा थाना ऊनि राजपूत ने 5 जुलाई के मामले को 4 जुलाई में एक और आवेदन लेकर गिरी पर किया प्रकरण दर्ज

यूनाइटेड प्रेस क्लब ने जांच एवं दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर पुलिस महानिरीक्षक को सौंपा ज्ञापन

 

तराना । पत्रकार नूतन गिरी पर लगाये झूठे आरोप में प्रभारी कायथा थाना उनि प्रदीपसिंह राजपूत ने  5 जुलाई के मामले को 4 जुलाई में दुसरा झूठा आवेदन लेकर प्रकरण दर्ज करने की उच्च स्तरी जाँच एवं दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग को लेकर उज्जैन झोन पुलिस महानिरीक्षक राकेश गुप्ता के नाम कार्यालय पर एस टीनों राठौर को ज्ञापन सौंपा । 

ज्ञापन में बताया की रविवार 5 जुलाई 2020 को ग्राम कायथा बाजार में कुछ व्यापारियो की दुकानें खोली हुई थी। जबकि प्रशासन ने कोरोना संक्रमण के चलते सोमवार से शनिवार प्रातः 9:00 से शाम 6:00 बजे तक बाजार खोलने एवं रविवार को पूर्ण रूप बंद रखने के दिशा निर्देश दिए थे। रविवार 5 जुलाई को बाजार की दुकानें खुली होने पर पत्रकार नूतन गिरी द्वारा फोटो एवं वीडियो लिए गए थे मामले में व्यापारियों ने समाचार ना छापने को लेकर पत्रकार गिरी को धमकी देते हुवे उल्टे कायथा थाने  पर एसडीएम के नाम हफ्ता वसूली करने का झूठा आरोप लगाते हुए आवेदन दिया था।

मामले में  कायथा थाना प्रभारी प्रदीपसिंह राजपूत ने द्वेषता पूर्वक राजनीतिक दबाव एवं लालच में आकर 5 जुलाई के मामले को 4 जुलाई की दिनांक में बेक समोसा व भोजनालय व्यापारी राहुल पिता श्याम राठौर से  एक और झूठा आवेदन लेकर कर मामले की दिशा बदल दी जिसमें राहुल पिता श्याम राठौर  निवासी कायथा ने आरोप लगाया है  की नूतन गिरी ने मेरी दुकान के वीडियो बनाकर रुपए की मांग की। जो की दोनों ही मामले 5 जुलाई के है.

.

जबकि पत्रकार गिरी ने रविवार के  दिन दुकान खुली होने एवं प्रतिबंधित गुटखा पाउच विक्रय होने की जानकारी लगने पर प्रमाण के लिए एक व्यक्ति  को राहुल राठोर की दुकान से पाउच लाने के लिए भेजा राहुल ने उसे 20 रू. में 4 पाउच दिए थे। राहुल ने पत्रकार गिरी व एक और व्यक्ति को कुछ दूरी पर खड़े देख संदेह किया राहुल पत्रकार गिरी के पास जाकर बोला मेरे वीडियो क्यों  बनाएं  मेरा समाचार लगाया  तो थाने में प्रकरण दर्ज करवउगा एवं गाली देकर जान से मारने की धोंस दी।

लेकिन राहुल ने आवेदन में आरोप लगाया कि पत्रकार गिरी ने मुझसे रुपयों की मांग की जबकि पत्रकार गिरी ने राहुल की दुकान के ना तो फोटो लिए ना ही वीडियो बनाएं और ना ही उससे मिला, जिसके दो व्यक्ति और  साक्षी है  पत्रकार गिरी ने जो फोटो और वीडियो लिए वह राहुल की दुकान के नहीं बल्कि बाजार के हैं   शनिवार को तो वैसे ही बाजार खुला रहता है । लेकिन मामले में थाना प्रभारी राजपूत ने षडयंत्र पूर्वक द्वेस्ता एवं राजनीतिक दबाव के चलते लालच में आकर व्यापारी  राहुल से आवेदन लेकर  मामले में नूतन गिरी के विरुद्ध  प्रकरण दर्ज कर दिया ।

 

यूनाइटेड प्रेस क्लब ने ज्ञापन देते हुए मामले में उच्च स्तरीय जाँच एवं दोषियो पर सख्त से सख्त कार्यवाही करने की मांग की ज्ञापन देते समय यूनाइटेड प्रेस क्लब के प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र पुरोहित जिला अध्यक्ष अरविंद देवधरे उपाध्यक्ष नूतन गिरी गोस्वामी तराना तहसील अध्यक्ष अर्पित बोडाना पत्रकार पल्लवी शर्मा पत्रकार मयंक गुर्जर आदि उपस्थित थे.