ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
रायगढ़ जिले के सभी क्वारेंटीन सेंटरों में रेडियो उपलब्ध करावे -कलेक्टर श्री भीम सिंह
June 8, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़

रायगढ़ जिले के सभी क्वारेंटीन सेंटरों में रेडियो उपलब्ध करावे -कलेक्टर श्री भीम सिंह

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 

  • सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों में लगेंगे बिजली कनेक्शन और बनेंगे शौचालय
  • कलेक्टर ने विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से अनुविभाग स्तरीय अधिकारियों की ली बैठक

रायगढ़, कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जिले के सभी एसडीएम और जोनल अधिकारियों के साथ सीधे बातचीत की। कलेक्टर श्री सिंह ने स्पष्ट निर्देश दिये कि क्वारेंटीन सेंटरों में किसी प्रकार की अव्यवस्था न हो सभी वरिष्ठ अधिकारी क्वारेंटीन सेंटरों में स्वयं जाकर निरीक्षण करें और सद्भावना पूर्वक वहां रहने वाले व्यक्तियों से बातचीत करें उन्हें समझायें कि सेम्पल जांच की रिपोर्ट आने तक उन्हें क्वारेंटीन सेंटरों में ही रूकना होगा।

जोनल अफसर क्वारेंटीन सेंटरों में मिलने वाले भोजन वहां की साफ-सफाई, शौचालय और अन्य मुलभूत सुविधाओं को व्यवस्थित करें और यह सुनिश्चित करें कि क्वारेंटीन सेंटर में रखे गये व्यक्ति किसी परिस्थितियों में सेंटर से बाहर नहीं आयेंगे और न ही कोई बाहरी व्यक्ति सेंटर में जायेगा। क्वारेंटीन सेंटर में 14 दिन की अवधि पूर्ण होने के बाद और सेम्पल रिपोर्ट प्राप्त होने के आधार पर एसडीएम के अनुमति के बिना किसी को नहीं छोड़ा जायेगा।

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने विडियो कान्फ्रेसिंग की सूचना के बाद जिन अनुविभागों में संबंधित अधिकारी कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये है उनके विरूद्ध नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के निर्देश एसडीएम को दिये। उन्होंने कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए शासकीय अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा निष्ठापूर्वक कार्य किये जाने की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह जिम्मेदारी चुनावों के समय की जाने वाली ड्यूटी से भी ज्यादा महत्वपूर्ण है परंतु यह भी ध्यान रहे कि एक छोटी सी त्रुटि या लापरवाही से बहुत गंभीर परिणाम हो सकते है।

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने कहा कि क्वारेंटीन सेंटरों में रहने वाले गर्भवती महिलाओं का विशेष ध्यान रखा जाये और उन्हें पौष्टिक आहार प्रदान किया जाये। जिले में रेल मार्ग से आने वाले व्यक्तियों की जानकारी सूचीबद्ध तरीके से रखा जाये और जो व्यक्ति होम क्वारेंटीन में रह रहे है उनकी प्रतिदिन की गतिविधियो पर सख्त निगरानी रखी जाये एवं ऐसे व्यक्तियों के बारे में उनके मुहल्ले और पड़ोस में रहने वाले आम नागरिकों से भी सूचना प्राप्त करते रहे। क्योंकि उनके बाहर निकलने या घुमने से पॉजिटिव प्राप्त होने पर पड़ोसी और मुहल्ले के लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने कहा कि जो श्रमिक या मजदूर अन्य राज्यों से आये है उन्हें रोजगार दिलाना शासन की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है इसलिए सभी श्रमिकों का विस्तृत जानकारी सहित स्कील मैपिंग फार्म भराया जाये। मजदूरी कार्य में बहुत प्रकार की मजदूरी होती है इसलिए बाहर से आये मजदूर वहां क्या कार्य करता था उसका पूरा विवरण तैयार करें ताकि स्थानीय उद्योगों में उसे रोजगार दिलाया जायेगा और जिन लोगों को उद्योगों में रोजगार नहीं मिलेगा उन्हें मनरेगा के माध्यम से कार्य दिलाया जायेगा।

उन्होंने सभी प्रवासी श्रमिकों को रोजगार के लिए जॉब कार्ड तथा राशन कार्ड बनाये जाने के भी निर्देश दिये। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने जिले के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों में शत-प्रतिशत बिजली कनेक्शन लगवाने और शौचालय निर्माण कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने गांव-गांव में कोरोना की रोकथाम के लिए जन-जागरूकता अभियान चलाये जाने पर जोर देते हुए कहा कि सभी नागरिक मॉस्क लगावे तथा सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए कार्य करे और जिले के सभी गांवों में मॉस्क की उपलब्धता बनी रहे यह सुनिश्चित किया जाये। जिले के सभी उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से मॉस्क उपलब्ध कराये जाने के भी निर्देश दिये।

इस अवसर पर एडीएम श्री राजेन्द्र कुमार कटारा, जिला पंचायत सीईओ सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एस.एन.केशरी, नगर निगम आयुक्त श्री आशुतोष पाण्डेय सहित सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।