ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
सीएमओ ने ली कियोस्कर संचालकों की बैठक पीएम स्वनिधि योजना में पंजीयन करने के दिए निर्देश
June 12, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
सीएमओ ने ली कियोस्कर संचालकों की बैठक पीएम स्वनिधि योजना में पंजीयन करने के दिए निर्देश 

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 

मुलताई। केंद्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना महामारी के कारण छोटे व्यापार से हाथ धो बैठे पथ व्यापारियों के लिए दस हजार रुपए के लोन की योजना लाई गई है। नगर पालिका में शुक्रवार को सीएमओ राहुल शर्मा ने कियोस्कर संचालकों की बैठक लेकर पीएम स्वनिधि योजना के तहत पंजीयन करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी को कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों के पंजीयन करें, जिससे अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सकें।

कोविड-19 महामारी से प्रदेश के शहरी पथ व्यवसायिों का रोजगार एवं उनकी आजीविका बुरी तरह से प्रभावित हुई है। इन व्यवसायियों को फिर से रोजगार से जोडऩे एवं स्थाई आजीविका के साधन उपलब्ध कराने के लिए पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना का लाभ दिया जाएगा। सीएमओ ने बताया कि इस योजना के तहत पात्र हितग्राहियों को 10 हजार रुपए का कार्यशील पूंजी लोन भारत सरकार द्वारा 7 प्रतिशत ब्याज अनुदान सहायता एवं मध्यप्रदेश शासन द्वारा अतिरिक्त 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान सहायता के साथ प्रदान किया जाएगा। उक्त योजना की अवधि मार्च 2022 तक है। जिसमें बिना किसी धरोहर राशि के लोन दिया जाएगा।

वहीं पूर्व लोन भुगतान में कोई पेनल्टी देय नहीं होगी। डिजीटल पैंमेंट पर केस बेक का प्रावधान भी है। उक्त लोन की अवधि एक साल की है, त्रिमासिक ब्याज अनुदान देय होगा। सीएमओ राहुल शर्मा ने बताया कि इस योजना के लिए वह लोग आवेदन कर सकते हैं, जो ऐसे स्ट्रीट वेंडर्स जो 24 मार्च 2020 से पर्व या इसके पूर्व से शहरी क्षेत्र में पथ्थ विक्रेत हो या जिनके पास निकाय वेडिंग समिति के जारी वेडिंग सर्टीफिकेट, पहचान पत्र हो।

पथ विक्रेता सर्वे में चिन्हित हो,लेकिन पहचान पत्र ना हो, जो सर्वे में छूट गए हो, लेकिन काम कर रहे हो, लेकिन टाउन वेडिंग समिति द्वारा अनुशंसित हो। ऐसे पथ विक्रेता जो कोरोना महामारी के कारण अन्य जगह चले गए हो, वह लोग आवेदन कर इसका लाभ उठा सकते हैं।