ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
शौचालय के पेमेंट करवाने के लिए विकास खण्ड समन्वयक नीलम तिवारी को लोकायुक्त ने 5500 की रिश्वत लेते रंगों हाथों पकड़ा
February 18, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • क्राइम / अपराध
शौचालय के पेमेंट करवाने के लिए विकास खण्ड समन्वयक नीलम तिवारी को लोकायुक्त ने 5500 की रिश्वत लेते रंगों हाथों पकड़ा

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

छतरपुर। सागर लोकायुक्त पुलिस ने मंगलवार को एक बड़ी कार्यवाही करते हुए छतरपुर विकासखंड ऑफिस में पदस्थ नीलम तिवारी को 5500 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया। नीलम तिवारी एक रोजगार सहायक से रिश्वत की यह रकम ले रही थी तभी लोकायुक्त पुलिस ने छापामार कार्यवाही कर उन्हें रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया। 

इसे भी पढ़ें :- झूठे केस में फंसाने की शाजिस करने वाला थाना प्रभारी सुभाष सुलिया को इंदौर लोकायुक्त पुलिस ने 5 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम सरानी निवासी रोजगार सहायक जितेंद्र सिंह ने अपनी ग्राम पंचायत में 13 शौचालयों का निर्माण करवाया था इन शौचालय की फोटो लेकर वे कई बार नीलम तिवारी के पास पहुंचे बताते चलें कि नीलम तिवारी समग्र स्वच्छता अभियान की ब्लॉक कोऑर्डिनेटर है नीलम तिवारी ने कई बार आग्रह के बाद भी फोटो प्रमाणित नहीं किए और 500 रुपए प्रति फोटो के हिसाब से रिश्वत मांगी.

शौचालय के पेमेंट करवाने के लिए विकास खण्ड समन्वयक नीलम तिवारी को लोकायुक्त ने 5500 की रिश्वत लेते रंगों हाथों पकड़ा

TOC NEWS @ www.tocnews.org

इसे भी पढ़ें :- रिश्वतखोर महिला डॉक्टर को लोकायुक्त पुलिस रिश्वत लेते धर दबोचा, डॉक्टर के हाथ धुलाते हुए गुलाबी

नीलम तिवारी की मांग से परेशान जितेंद्र सिंह ने लोकायुक्त पुलिस सागर को पूरे घटनाक्रम से अवगत कराया और आज मंगलवार को लोकायुक्त सागर की टीम पहले से ही जनपद कार्यालय के चारों ओर सादा वर्दी में तैनात हो गई तय कार्यक्रम के अनुसार जैसे ही जीतेंद्र सिंह 55 सो रुपए की रिश्वत देने नीलम तिवारी के पास पहुंचे और उन्होंने रिश्वत की रकम कुमारी नीलम तिवारी को दी वैसे ही लोकायुक्त पुलिस ने छापामार कार्यवाही कर नीलम तिवारी को गिरफ्तार कर लिया और उनके कब्जे से रिश्वत में दिए गए 55 सो रुपए भी बरामद कर लिए समाचार लिखे जाने तक मामले कार्यवाही जारी थी।