ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
तकनीकी हस्तक्षेप एवं मानवीय सजगता से 'शून्य क्षति दक्षता' संभव: श्री आर॰ सुब्रमण्यम
February 10, 2020 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID • मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़
तकनीकी हस्तक्षेप एवं मानवीय सजगता से 'शून्य क्षति दक्षता' संभव: श्री आर॰ सुब्रमण्यम

TOC NEWS @ www.tocnews.org

वार्षिक खान सुरक्षा सप्ताह – 2019’ का हुआ भव्य पारितोषिक वितरण समारोह

सिंगरौली. ‘खनन कार्य में तकनीक के कुशल प्रयोग और व्यक्तिगत सजगता से 'शून्य क्षति दक्षता' का लक्ष्य संभव है।’ ये विचार, महानिदेशक, खान सुरक्षा महानिदेशालय, धनबाद, श्री आर॰ सुब्रमण्यम ने रविवार को नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) में ‘वार्षिक खान सुरक्षा सप्ताह – 2019’ के पारितोषिक वितरण समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए व्यक्त कियाl

इस अवसर पर उन्होनें हितग्राहियों की सहभागिता से सुरक्षा संबंधी समस्याओं का निवारण करने का आवाहन किया। उन्होने कहा कि आज के औद्योगिक परिदृश्य में खान सुरक्षा महानिदेशालय के भुमिका नियामक के साथ-साथ एक परामर्शदायी संस्था की भी है । एनसीएल की उत्पादन विकास दर के आलोक मे उन्होँने कहा कि राष्ट्र की 5 ट्रिलियन की अर्थ व्यवस्था के लक्ष्य में ऊर्जा सुरक्षा के परिप्रेक्ष्य में एनसीएल की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता एनसीएल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक (सीएमडी) श्री प्रभात कुमार सिन्हा ने की। अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में श्री सिन्हा ने कहा कि सुरक्षित कार्य संस्कृति से ही कंपनी की उत्पादन, उत्पादकता को बढ़ावा मिलता है । उन्होने खान सुरक्षा निदेशालय द्वारा समय समय पर किये जाने वाले खदान निरीक्षण को महत्वपूर्ण बताया l साथ ही महानिदेशालय के निर्देशों एवं हितग्राहियों के सुझावों पर अमल की एनसीएल की कटिबद्धता को भी दोहराया। इस अवसर पर उन्होने एनसीएल की खदानों में कार्य कर रहे कर्मियों को विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कार प्राप्त करने पर बधाई दी।

समारोह में उप महानिदेशक, खान सुरक्षा महानिदेशालय गाज़ियाबाद श्री रमेश कुमार, एनसीएल के निदेशक (तकनीकी/संचालन) श्री गुणाधर पाण्डेय, एनसीएल के निदेशक (वित्त/कार्मिक ) श्री एन॰ एन॰ ठाकुर, निदेशक (तकनीकी/परियोजना एवं योजना) श्री एम॰ के. प्रसाद, निदेशक (खान सुरक्षा) खान सुरक्षा निदेशालय वाराणसी श्री अफ़ताब अहमद एवं डीजीएमएस के उप महानिदेशक (इलेक्ट्रिकल) श्री एम॰ सहाय, उप महानिदेशक (मेकेनिकल) श्री जे.पी वर्मा और एनसीएल के महाप्रबंधक (सुरक्षा एवं बचाव) श्री सपन श्रीवास्तव बतौर विशिष्ट अतिथि सपत्नीक उपस्थित थे। साथ ही, एनसीएल जेसीसी सदस्य श्री मुन्नी लाल यादव, श्री अशोक दूबे एवं सीएमओएआई के सचिव श्री सर्वेश सिंह और सासन पावर लिमिटेड के सीईओ श्री ए॰ के॰ सिंह एवं जेपी वेंचर्स लिमिटेड से कर्नल अजय सिंह भी बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित थे।

इस अवसर पर उप महानिदेशक,खान सुरक्षा महानिदेशालय गाज़ियाबाद श्री रमेश कुमार ने सुरक्षा जागरुकता में कर्मियों के पारिवारिक सदस्यों को शामिल करने पर बल दिया जिससे की मानवीय भूलों को न्यूनतम किया जा सके।

एनसीएल के निदेशक (तकनीकी/संचालन) श्री गुणाधर पाण्डेय ने कहा कि अधिभार हटाव के बड़े लक्ष्य के साथ शून्य क्षति दक्षता हासिल करना एक चुनौती है जिसे टीम एनसीएल असुरक्षित प्रथाओं व मानवीय भूलों को न्यूनतम कर सुरक्षा के क्षेत्र में नये आयाम स्थापित कर रही है ।

निदेशक (वित्त एवं कार्मिक ) श्री नाग नाथ ठाकुर ने सुरक्षा के विषय में सभी कर्मियों के साथ-साथ, सुरक्षा समितियां व श्रमिक संगठनो के अहम योगदान को रेखांकित किया। साथ ही भविष्य में सुरक्षा युक्त और दुर्घटना मुक्त खदान परिचालन की कामना किया।

इस अवसर पर निदेशक (तक./ योजना व परियोजना) श्री एम.के. प्रसाद ने कहा कि उत्पादन के साथ सुरक्षा भी कम्पनी की अहम प्राथमिकताओं में शामिल है । अपने उदबोधन में उन्होनें संसाधनों व इसके उपयोग की विधियों के सरलीकरण पर जोर दिया ।

एनसीएल जेसीसी सदस्य श्री मुन्नीलाल यादव, श्री अशोक दूबे और सीएमओएआई के सचिव श्री सर्वेश सिंह ने खान सुरक्षा की दिशा में एनसीएल प्रबंधन द्वारा किये जा रहे प्रयासों को सराहा तथा सभी कर्मियों से सुरक्षा नियमों का पूर्णतः पालन करने का आग्रह किया।
इस कार्यक्रम का आयोजन खान सुरक्षा निदेशालय, वाराणसी क्षेत्र के तत्वावधान में एनसीएल, सासन पावर लिमिटेड एवं जे॰ पी॰ वेंचर्स लिमिटेड द्वारा एनसीएल खड़िया क्षेत्र के स्टेडियम में किया गया।

इससे पहले कार्यक्रम में ध्वाजारोहण किया गया और सुरक्षा शपथ दिलाई गई। साथ ही, दिवंगत श्रमिकों को खनिक प्रतिमा पर माल्यार्पण द्वारा श्रद्धांजलि दी गई। साथ ही, इस अवसर पर एक सुरक्षा स्मारिका का विमोचन भी किया गया।

झांकियों एवं प्रदर्शनी में पेश हुआ तकनीकी एवं प्रबंधकीय कौशल का नमूना :

पारितोषिक वितरण समारोह में एनसीएल की तकनीकी व प्रबन्धकीय क्षमता को रेखांकित क़रते हुए एक शानदार प्रदर्शनी का आयोजन भी किया गया l प्रदर्शनी के माध्यम से भारी मशीनों (एचईएमएम) और इसके परिचालन तथा खनन क्षेत्र में हो रहे नवाचार को प्रदर्शित किया गया, जिसका अतिथियों ने निरीक्षण भी किया l साथ ही सभी क्षेत्रों द्वारा सुरक्षा, पर्यावरण, डम्प प्रबंधन, कौशल विकास, स्वच्छता एवं स्वास्थ्य जैसे विषयों पर आकर्षक झांकियां भी प्रस्तुत की गईं।

लेजर शो व सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ रहीं विशेष आकर्षण

कार्यक्रम में लेजर शो के द्वारा एनसीएल की विकास यात्रा और उपलब्धियों का सहज चित्रण को लोगों ने बड़े उत्सुकता से देखा। साथ ही स्कूली छात्र-छात्राओं और कलाकारों द्वारा दी गईं सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी आकर्षण का विशेष केंद्र रहीं।
एनसीएल के महाप्रबंधक (सुरक्षा एवं बचाव) श्री सपन श्रीवास्तव ने कंपनी का वार्षिक सुरक्षा प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और महाप्रबंधक (खड़िया ) श्री ए.एन.पांडेय ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथियों का स्वागत किया।

कार्यक्रम में एनसीएल मुख्यालय के विभागों के विभागाध्यक्ष, सभी क्षेत्रों के महाप्रबंधक गण, श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधि एवं अधिकारी-कर्मचारी गण उपस्थित थे। साथ ही, सासन पावर लिमिटेड एवं जे॰ पी॰ वेंचर्स लिमिटेड से आए अधिकारी-कर्मचारी और बड़ी संख्या में दर्शक भी उपस्थित थे।

गौरतलब है कि एनसीएल के खान सुरक्षा विभाग की टीम ने महाप्रबंधक (सुरक्षा एवं बचाव) श्री सपन श्रीवास्तव की अगुआई में कोयला क्षेत्रों में 06 से 13 जनवरी, 2020 के बीच ‘वार्षिक खान सुरक्षा सप्ताह – 2019’ का आयोजन किया गया । इस दौरान सुरक्षा (सेफ्टी) जागरूकता को समर्पित कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया l