ALL राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़ क्राइम / अपराध राजनीति मनोरंजन / सिनेमा खेल खिलाड़ी स्वास्थ्य जगत शिक्षा / कैरियर बिजनेस / तकनीकी
उपभोक्ता ने किया सहारा इन्डिया के ऑफिस मे हंगामा
October 26, 2019 • TIMES OF CRIME , Editor : VINAY G. DAVID

 

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा. सहारा इंडिया के ऑफिस में हुआ जोरदार हंगामा । उभोक्ता रमेश प्रजापत ने महिदपुर रोड पर सहारा इण्डिया के ऑफिस में आकर अपने जमा किये गये खातों के पुरा हो चुके पैसो के लिए बैंक मैनेजर से उलझ गए और जब बात नही बनी तो रमेश प्रजापत ने सहारा इण्डिया के ब्रांच ऑफिस पर अपना ताला लगा दिया और चले गये । जिसके बाद ब्रांच मेनेजर ने मण्डी थाने जा कर इस घटना की जानकारी मण्डी थाना प्रभारी की दी ।

सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार थाना प्रभारी के आदेशानुसार ताले तो तोड दिया जाय कहा गया ।जिसके बाद ब्रांच मेनेजर ने पूरे ब्रांच के साथ मिलकर लगे ताले को हथोड़े के द्वारा तोड दिया और ब्रांच मे सुचारु रुप से कार्य दोबारा चालू हो गया।

सुत्र्रो की माने तो रमेश प्रजापत को जब इस बात की जानकारी लगी की ताला तोड़ा जा चुका है तो वे आनन्फानं मे दोबारा ब्रांच पर पहुचे और ब्रांच मेनेजर के ऑफिस मे ही धरना दे कर बैठ गये। और अभद्र व्यवाहार कर गाली गलौच से बात चीत कर बबंडर कर दिया । जिसे जैसे जैसे पता चलता गया वैसे वैसे सैंकड़ों की भीड़ इकठी हो गई। और एक एक कर उभोक्ताओ की भीड़ बढ़ती गई ।

सहारा इण्डिया के ब्रांच मैनेजर ने आरोप लगाया है कि उपभोक्ता रमेश प्रजापत ने फोन पर गाली दी और ऑफिस में अपना ताला लगा कर चाबी लेगये । मैने फिर थाने पर सूचना दी । तब जाकर पुलिस प्रशासन की मदद से दुबारा ताला खोला गया।

उसके बाद रमेश प्रजापत बिना अनुमति के धरना दे कर बैठ गये। और कहा कि मुझे मेंरे 30 लाख चाहिए । मुझे दीपावली का त्योहार मनाने के लिए । मुझे ब्याज के भी पैसे दो नही तो मै भूख हड़ताल कर रहा हूँ।

वही रमेश प्रजापत का कहना था की मेंने पैसा जमा किया है ।और कब तक इनके द्ववारा झांसा खाऊ बेवकूफ़ बनू ।

तभी मैनेजर ने डायल 100 को सूचना दे कर बुला लिया। नागदा थाने पर फोन लगाकर अपनी सुरक्षा के लिय पुलिस फोर्स बुला ली गई । ताकि कोई बड़ी घटना न हो ।
वही डायल 100 का कहना था की यह समस्या आए दिन होती रहती है।आए दिन डायल 100 को आना पड़ता है ।

सभी उभोक्ता परेशान हो रहे है।और एजेंट मौज मस्ती कर रहे है। यह आरोप उपभोक्ता रमेश प्रजापत ने लगाया। उनका यह कहना है। कुछ भी हो जाए मुझे जब तक पैसा नही मिलेगा तब मै घर नही जाऊंगा ।पुलिस प्रशासन ने उपभोक्ता रमेश प्रजापत को समझाईश दे कर बाहर कर दिया ।
देखते है अब क्या होगा ? उपभोक्ता को पैसा मीलेगा या ऑफिस खुलेगा।यही शर्त पर पुलिस प्रशासन ने बाहर किया।।

इसे भी पढ़ें :- भाजपा के पूर्व विधायक की 'गायब' बेटी का वीडियो सामने आया बोली मैं किसी के साथ नहीं, अकेली आई हूं, घर में थी परेशान